बेस्ट शेयर कैसे चुने | How to Find Best Share to Investment in Hindi (2024)

बेस्ट शेयर कैसे चुने

नमस्कार दोस्तो आपका हमारे एक और नए ब्लॉग पोस्ट में स्वागत है। आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बेस्ट शेयर कैसे चुने सकते है इसके बारे में बताने वाले है। क्योंकि जब भी कोई नया निवेशक शेयर मार्केट में कदम रखता है तो उसके सामने बेस्ट शेयर कैसे चुने यह बहुत बड़ा सवाल होता है।

अगर आपके मन में भी ऐसा ही आवक होगा तो अब आपको घबराने वाली कोई बात नही है, क्योंकि आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बेस्ट शेयर कैसे चुने इसके बारे में बताने वाले है। जिससे आप खुद पता लगा सकते है की आपको किस कम्पनी का शेयर खरीदना चाहिए? 

देखे तो शेयर मार्केट में अधिकतर शेयर टिप्स के अनुसार खरीदे जाते है, लेकिन बता दें आप केवल टिप्स लेकर शेयर खरीदना आपके लिए हानिकारक हो सकता है, लेकिन यदि आप टिप्स के आधार पर शेयर खरीदते है या देखते है तो इससे आप अमीर बन सकते है। और इसके साथ आपको शेयर मार्केट जा गणित अच्छे से आना चाहिए।

तो चलिए दोस्तो जल्दी से जान लेते है बेस्ट शेयर कैसे चुने (How to Find Best Share to Investment in Hindi) लेकिन इसके पहले शेयर मार्केट क्या है इसके बारे में जान लेते है, ताकि आपको अच्छे शेयर चुनने में कोई परेशानी न हो।

Telegram Group👉 Click Here
WhatsApp Group👉 Click Here
Google News 👉 Click Here

शेयर मार्केट क्या है (What is Share Market in Hindi)

बेस्ट शेयर कैसे चुने: शेयर मार्केट (Share Market) या शेयर बाजार या स्टॉक मार्केट (Stock Market) एक ऐसी जगह है, जहां पर अलग-अलग कंपनिया अपने शेयर बेचा करती है, जिसे निवेशक खरीदा करते है। जिससे वह निवेशक उस कम्पनी के एक छोटे से हिस्सादार बन जाता है। 

दोस्तों शेयर मार्केट एक रंगीन और जोशीली दुनिया है, जहां निवेशक के सपने और कंपनियों के योजनाओं का मेल देखने को मिलता है। यहां पर कंपनियों के शेयरों का बाजार घूमता है, प्राइस उछालता है, और बुल्स और बेयर्स का ज़ोरदार टकराव होता है। यहां साहसिक निवेशक रिस्क और मुनाफे की उच्च गति में चलते हैं।

आपको शेयर बाजार में निवेश करने के लिए बहुत सारी कंपनियों के शेयर मिलते है, जिसमे आप निवेश कर सकते है। लेकिन इसमें प्रॉफिट के साथ-साथ जोखिम का भी सामना करना पड़ता है। क्योंकि इसमें शेयरों की वैल्यू मार्केट की स्थितियों के मुताबिक बढ़ती और घटती रहती है।

कुल मिलाकर देखे तो शेयर मार्केट सबसे अच्छा जगह है निवेश के लिए। लेकिन इसमें निवेश करने से पहले आपको उस कम्पनी के शेयर के बारे में अच्छे से जानकारी हासिल कर लेनी चाहिए। अन्यथा आपको प्रॉफिट की जगह हानि होने की संभावना रहती हैं।

शेयर मार्केट कैसे काम करता है (How Does the Share Market Work in Hindi)

दोस्तो जब भी को नया निवेशक शेयर बाजार में कदम रखता है तो उसके मन में यही सवाल होता है की शेयर मार्केट कैसे चलता है या शेयर बाजार कैसे काम करता है तो बता दे, शेयर मार्केट एक ऐसी जगह है जहां पर कंपनियां अपने शेयर बेचते हैं और निवेशक उन शेयरों को खरीदते हैं,

जिससे दोनों को ही लाभ पहुंचता है और यह पूरा काम ऑनलाइन मध्यम से होता है, जिससे कारण अब आप अपने घर बैठे ही शेयर खरीद और बेच सकते है। 

शेयर बाजार के मुख्य रूप से दो भाग होते हैं – प्राथमिक बाजार और द्वितीयक बाजार

प्राथमिक बाजार या प्राइमरी मार्केट (Primary Market): इस प्रकार के मार्केट में नई कंपनिया अपने शेयर को निवेशक को ऑफर करती है। जिसे आईपीओ कहते है। जब निवेशक शेयरों को खरीदते हैं, कंपनी को पैसे मिलते हैं।

द्वितीयक बाजार (Secondary Market): इस प्रकार के मार्केट में पहले से खरीदे गए शेयर का लेन-देन होता है, जिसमे निवेशक एक दूसरे से शेयर खरीद-बेच सकते हैं।

देखिए दोस्तो, अगर आप शेयर मार्केट में एक सफल निवेशक बनना चाहते है तो इसके लिए आपको मार्केट के मुख्य सूचनांक सेंसेक्स (BSE) और निफ्टी (NSE) के बारे में जानना चाहिए। ये इंडेक्स मार्केट के ओवरऑल परफॉर्मेंस को दिखाते हैं।

इसके अलावा, आपको तकनीकी विश्लेषण और मौलिक विश्लेषण को भी सीखना चाहिए, जिससे आप बेहतर निवेश निर्णय ले सकेंगे। 

यह भी पढ़ें : भविष्य में बढ़ने वाले शेयर लिस्ट

बेस्ट शेयर कैसे चुने – How to Find Best Share to Investment in Hindi 

दोस्तो आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से 8 तरीके बताने वाले है जिनसे आप अच्छे शेयर का चुनाव कर सकते है। और आप अपने लिए बेस्ट शेयर कैसे चुने सकते है –

1. सही सेक्टर की पहचान करें (Identify The Correct Sector)

आज के समय में देखे तो शेयर मार्केट में हजारों कंपनियां लिस्टेड है, अगर इनमे से शेयर को चुनना चाहेंगे तो यह काम बहुत कठिन हो सकता है। फिर भी अगर आप बेस्ट स्टॉक को चुनना चाहते है तो इसके लिए आपको सबसे पहले उस सेक्टर की पहचान करना चाहिए जिसमे आपको ग्रोथ की संभावनाएं नजर आ रही है। 

अच्छे सेक्टर जैसे, बैंकिंग सेक्टर, फार्मा सेक्टर, FMCG सेक्टर आदि। अगर आप देखते है की कोई कम्पनी है जो अभी के समय के हिसाब से प्रोडेक्ट नहीं ला रही है, तब तो आपको ऐसी कंपनी को नजरंदाज कर देना चाहिए। ऐसे कंपनी जैसे: टाइपराइटर, डीवीडी प्लेयर बनाने वाली कंपनी का कोई भविष्य नहीं हैं। 

आपको हमेशा ऐसी कम्पनी या सेक्टर का चुनाव करना है जिसका भविष्य में व्यापार बढ़ने की संभावनाएं दिख रही हो, इसके लिए आपको कंपनी की बिजनेस को समझने के जरूरत है। आप उस कंपनी द्वारा बनाये जाने वाले प्रोडक्ट्स के बारे में सोचिये, क्या लोग उन्हें आने वाले 15 से 20 साल बाद भी प्रयोग करेंगे।

2. फाइनेंसियल डाटा देखें (View Financial Data)

जैसा कि आपको कोई अच्छा सा स्टॉक मिल गया है, अब यहां पर आपको उस स्टॉक के पिछले 3 से 5 वर्षों के फाइनेशियल डाटा को देखना नही भूलना है। जब भी आप किसी शेयर का फाइनेशियल डाटा देखते है- इसमें आपको बैलेंस शीट, इनकम स्टेटमेंट, कैश फ्लो और फाइनेंसियल रेश्यो जरूर से जरूर देखना चाहिए।

यह भी पढ़ें : ₹1 से कम कीमत वाले कर्ज मुक्त शेयर

3. कंपनी के बिज़नेस को समझे (Understand The Company’s Business)

कई निवेशक ऐसे होते है जो किसी भी कंपनी के शेयर को बिना सोचे समझे केवल टिप्स लेकर शेयर खरीद लेते है। उन्हे यह तक ज्ञात नही होता की कंपनी वास्तव में क्या बिजनेस करती है। किसी भी कम्पनी के शेयर खरीदना यानी उस कम्पनी के बिजनेस में पैसा लगाना है। 

इसलिए आपको यह जरूर पता होना चाहिए की कंपनी आपके पैसे का क्या करने जा रही है, या करने वाली है। यदि आप भी बेस्ट शेयर कैसे चुने चुनना चाहते है तो इसके लिए आपको नीचे बातों पर ध्यान जरूर देना चाहिए। 

  • कंपनी क्या बिज़नेस कर रही हैं?
  • कंपनी के टारगेट उपभोक्ता कौन हैं?
  • बाजार में कंपनी के कौन-कौन से उत्पाद उपलब्ध हैं 
  • कंपनी किस प्रकार की सेवाएं दे रही हैं?

4. कम्पनी के ऊपर ऋण (Debts to Company)

दोस्तों यदि आप भी शेयर मार्केट में बेस्ट शेयर कैसे चुने चुनना चाहते है, तो इसके लिए आपको कंपनी के ऊपर कितना ऋण है इसे जरूर देखना चाहिए। जैसे की अगर किसी कम्पनी के ऊपर अधिक ऋण है तो ऐसे में वह ज्यादा ब्याज का भुगतान करता होगा। ऐसे कम्पनी के शेयर खरीदने से आप प्रॉफिट पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता हैं।

इसलिए आप जिस भी कंपनी के शेयर को खरीद रहे हो, उस कम्पनी का ऋण जरूर चेक कर ले, और कंपनी पर कम से कम ऋण होनी चाहिए। ऐसे में आपके प्रॉफिट में स्कारात्मक प्रभाव पड़ेगी। इसके आलावा आप एक निवेशक के तौर पर Debt-Equity Ratio देख सकते हैं। 

वैसे Debt-Equity Ratio अगर 1 से कम हो तो अच्छा माना जाता है। यह रेश्यो अगर जीरो हो तो यह एक आदर्श रेश्यो माना जाता हैं।

यह भी पढ़ें : सबसे सस्ते शेयर्स की लिस्ट 

5. कंपनी का ट्रैक रिकॉर्ड (Company Track Record)

दोस्तों कोई भी कंपनी का Share खरीदने से पहले उसका Track Record भी देख लेना चाहिए। आपके न्यूज में यह तो सुना ही होगा की इस कंपनी के उत्पाद में हानिकारक तत्व मिश्रित है या इस हिसाब मे गरबड़ मिली तो Government ने नोटिस दी या जुर्माना लगाया।

अगर ऐसी खबर आपको किसी कम्पनी के बारे में सुनने में आ रहा है तो आपको वह खर अच्छे से पढ़ना है, क्योंकि खबर आई है तो कही उसमे सच्चाई भी हो सकती है या वो कम्पनी फ्यूचर में ऐसा कर सकता है। आपको इस बार में जानकारी पाने के लिए कम्पनी का नाम आज Scheme, Fraud ये गूगल में सर्च करना है। 

अब आपको उस कम्पनी के पिछले सारे सालो की जानकारी आ जायेगी। 

6. ग्राहक संतुष्टि (Customer Satisfaction)

किसी भी कम्पनी का उत्पाद आगे अच्छे से चलेगा या नही, इसी बात से कम्पनी का फ्यूचर डिपेंड होता है, अब उस प्रोडक्ट की सेल कितनी होने वाली है फ्यूचर ने वो उस पर डिपेंड करता है की कस्टमर कम्पनी के प्रोडक्ट को कितना पसंद करता है। 

आप ऑनलाइन भी सॉपिंग की वेबसाइट में रिव्यू देखते है। जो बहुत ही बेसिक जानकारी होती है। अगर आप beginn इन्वेस्टर है, और आप शेयर मार्केट में नीचे करने के लिए बेस्ट शेयर कैसे चुने चाहते है, तब आपको स्टार्टिंग में थोड़ा थोड़ा करते पैसा निवेश करते जाना है भी तो आपको बड़ा लॉस भी हो सकता है। 

यह भी पढ़ें : सबसे ज्यादा डिविडेंड देने वाले शेयर

7. परंपरागत शेयर (Traditional Shares)

आपके मान में सवाल आ रहा होगा की परंपरागत शेयर ये किस प्रकार का शेयर है। दोस्तों यह एक ऐसा शेयर है जिसे हम सालों से देखते आ रहे है और इसमें अभी भी अच्छी तेजी बनी हुई है।

जैसे उदाहरण के लिए, कोई व्यक्ति है जो 40 साल पहले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में अपना खाता खुलवाता है। और उस समय बैंक का शेयर बड़ रहा होता है, देखे तो 40 साल बाद आज बज यह बैंक तेज़ी से आग बड़ रहा है। और ऐसे में एसबीआई का शेयर खरीदना चाहिए। क्योंकि यह एक लंबी रेस का घोड़ा साबित हो सकता है। 

इसके आलावा पारले जी बिस्किट हम तो बचपन से खाते आ रहे है। और आज भी खाते है। मतलब यह कम्पनी एक लंबी रेस का घोड़ा है। आपको इसपर निवेश जरूर करना चाहिए।  

Telegram Group👉 Click Here
WhatsApp Group👉 Click Here
Google News 👉 Click Here

FAQs:

1. शेयर मार्केट सीखने में कितना समय लगता है?

Ans. शेयर मार्केट सीखने में कम से कम आपको 3 महीने से लेकर 6 महीने लग सकता है। अगर आप रोजाना एक घंटा धरे मार्केट को सीखने पर देते है तो अगले 3 से 4 महीनो में ही आप एक सफल इन्वेस्टर बन सकते है। 

2. शेयर मार्केट में 1 दिन में कितना कमा सकते हैं?

Ans. शेयर मार्केट में 1 दिन में ₹1 से लेकर ₹100 करोड़ तक कमा सकते है। यानी इसमें पैसा कमाने की कोई लिमिट नही हैं 

3. भारत में शेयर बाजार कौन चलाता है?

Ans. भारत में शेयर बाजार SEBI द्वारा चलाया जाता है।

Conclusion (How to Find Best Share to Investment in Hindi)

दोस्तों शेयर मार्केट में रिस्क तो बहुत है, लेकिन अगर आप अच्छे सोच विचार और फाइनेशियल रिसर्च के साथ इन्वेस्ट करते है तो आपका नुकसान नही होता है। और आपको किसी के कहने पर किसी भी कम्पनी के शेयर में निवेश नही कर देना है। 

एक बात और, की आपको कभी भी शेयर मार्केट में कर्ज लेकर कदम भी रखना है, चाहे आपको कितना भी लगे की आप रिकवर कर सकते है, लेकिन आपको कर्ज लेकर निवेश नही करना है। 

आज के इस लेख के आप लोगो ने जाना बेस्ट शेयर कैसे चुने। आशा करता हूं की आपको यह लेख अंतिम तक समझ में आया होगा। अगर यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों, रिलेटिव और अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म में शेयर जरूर करें। ताकि वे लोग भी निवेश करने के लिए बेस्ट शेयर कैसे चुने सके। 

यदि यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो इसे 5 रेटिंग जरूर दें, और आपके मन में इस पोस्ट से संबंधित कोई भी डाउट या प्रश्न हो तो हमे कॉमेंट करके बताए। हम उसका रिप्लाई देने की पूरी कोशिश करेंगे।

धन्यवाद!

हमेशा सीखते रहिए ❤️

Read Related Articles: 

4.5/5 - (2 votes)

About The Author

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top